What is SEO in hindi- SEO kya hai

SEO क्या होता है जानिए हिंदी में

तो आपने अभी अभी blogging शुरू किया है या फिर आप blogging में पाँव रखने से पूर्व blogging के सन्दर्भ में सभी जानकारिया एकत्रित करने आए है या आप पक्के blogger है और SEO के सन्दर्भ में जानकारी एकत्रित करने आए है, चाहे कारण जो भी हो आप बिलकुल सही स्थान पर आए है क्योंकि यह लेख what is SEO kya hai in hindi आपको SEO के सन्दर्भ में सामान्य जानकारी प्रदान करेगी|

तो चलिए जानते है SEO in hindi – 

SEO या Search Engine Optimization का अर्थ अपने blog को search engine के अनुकूल बनाना होता है। क्योंकि यदि आप ऐसा करते है तो आपके blog को अन्य blog के तुलना में Search Engine अधिक preference देगा।

importance of SEO in hindi

इसका उत्तर प्रत्येक व्यक्ति के निजी विचार पर निर्भर करता है। हो सकता है वह व्यक्ति अपने “लिखने के जुनून” को अधिकाधिक लोगों को दिखाना चाहता हो। या यह भी संभव है कि वह अपने blogging skill के जरिए कमाई करना चाहता हो। इसके अनेक कारण हो सकते है पर हर कारण के लिए लक्ष्य तो निश्चित ही स्वयं को Search Engine में सबसे पहले क्रम में लाना है।

एक blogger का परम लक्ष्य इंटरनेट के जरिए अपने ब्लॉग की पहुंच अधिक से अधिक लोगों तक करना होता है। ऐसे में SEO को समझना हर ब्लॉगर के लिए एक अनिवार्य तथ्य बन चुका है।

Search Engine समय-समय पर अपने SEO तकनीक को बदलता रहता है ताकि कोई भी इसे समझ पाने का झूठा दावा ना कर सके। इसका एक अन्य प्रमुख कारण है कि यदि SEO सदैव एक जैसा रहे तो कोई भी व्यक्ति उसे आसानी से crack कर लेगा। और फिर Search Engine का कोई value शेष नहीं रहेगा।

SEO एक जटिल विषय है इसकी जटिलता आप इससे समझ सकते है कि कोई भी व्यक्ति आज तक पूर्ण रूप से SEO को नहीं समझ पाया है क्योंकि SEO निर्भर करता है Search Engine पर।

तो SEO का अर्थ तो हम समझ चुके है आइए अब SEO के संदर्भ में अन्य तथ्यों को भी स्पष्ट रूप से समझते है।

सर्च इंजन क्या होता है?

आपको intentet में कुछ खोजना है तो आप क्या करते है? सामान्य सी बात है आप googleYahooBing इत्यादि पर जा कर टाइप करते है और परिणाम का इंतजार करते है। तो जिन प्लेटफार्म से आपने अपने intentet में खोज को पूरा किया उसे ही Search Engine कहते है। जैसे उपरोक्त उदाहरण में google, Yahoo, Bing इत्यादि आपके Search Engine है।

हम सबको पता है कि आज google संपूर्ण विश्व में सर्वाधिक उपयोग किया जाने वाला Search Engine है क्योंकि गूगल के उपभोक्ता अन्य Search Engine के तुलना में बहुत अधिक है और इसी कारण यहां SEO difficulty भी बहुत अधिक है|

types of SEO in hindi

SEO के मुखयतः 3 प्रकार है :-

  1. On-Page SEO
  2. Technical SEO
  3. Off-Page SEO

आइए इन सभी प्रकारो को संक्षेप में समझते हैं – 

on page SEO क्या होता है?

On-Page SEO आपके website के content पर केंद्रित होता है अर्थात यह आपके website के originality, creativity और content जैसे कारको पर निर्भर करता है| 

वास्तव में यह एक strategy ही है जिसके तहत आप अपने एक निश्चित blog को Search Engine के लिए Optimize कर सकते है| हम इनमे से कुछ On-Page SEO के कारको का उल्लेख यहां पर कर रहे है| यद्यपि On-Page SEO के विषय में अधिक जानकारी के लिए इस लेख को पढ़े – (लिंक)

इस प्रकार के SEO में शामिल होते है – 

  • Keywords research – सबसे पहले आपको अपने niche या जिस विषय में आप blog लिख रहे है उस विषय का title धमाकेदार रखना होगा अर्थात ऐसे keyword का चयन करे जो आपके content को तो suit करे ही साथ ही जिसमे अधिक traffic आते हो|  
  • Content creation – आपको अपना content स्पष्ट और पढ़ने लायक अक्षरों में, original, और title के साथ समंजस्यता बिठाता हो, ऐसे रखना होगा|
  • Keyword optimization – जिन keywords को आपने अपने niche के लिए लिया है उनका बेहतरीन इस्तेमाल headings के लिए करे| पुरे blog में आवश्यकतानुसार keywords का use करे| 
on page SEO के विषय में अधिक जानकारी के लिए यह लेख पढ़े – on page seo in hindi

technical SEO क्या होता है?

Technical SEO आपके site के content पर निर्बाह्रता रखने वाले SEO नहीं होते अतः इन्हे सामान्यतः non content type SEO भी कहा जाता हैं|

वास्तव में यह आपके site के backend के structure को मजबूत और reliable बनाने वाला कारक है| यह सीधे सीधे site के traffic पर impact डालता है , क्योंकि इससे आपके blog  readability (पढ़ने की क्षमता) पर सीधे असर पड़ता है| परिणामस्वरूप search engine crawl भी आपके content को आसानी से पढ़ पाता है और आपके site को समझ पाता है|

इस प्रकार के SEO में निम्न प्रमुख कारक होते है-

  • आपके site की Speed 
  • Search Engine का आपके site तक आसानी से पहुंच पाना (crawalability)
  • आपके sie का Mobile में performance 
  • आपके site का बनावट 
  • आपके content coding का बनावट 
  • आपके site की सुरक्षा कड़ी

Technical SEO सभी प्रकार के SEO से अधिक जटिल होता है क्योंकि इसे समझने के लिए आपको कम्प्यूटरीकृत दिमाग होने की आवश्यकता होती है, आपको coding का ज्ञान होना आवश्यक हो जाता है| हालाँकि कुछ एक tools आज बाजार में मौजूद है जो इस काम को आसान कर देते है| 

Technical SEO के विषय में अधिक जानकारी के लिए इस लेख को पढ़े – technical seo in hindi

off page SEO क्या होता है?

off-page SEO सीधे सीधे आपके website के reputation और authority से जुड़ा हुआ है| इससे Search Engine को यह पहचानने में आसानी होती है की आपका website आदर्श है क्योंकि यह विभ्भिन reliable और trusted sources से traffic प्राप्त कर रहा है|

Off-page SEO के निम्न मुख्या कारक होते है 

  • उच्चत्तम गुणवत्ता वाले backlinks 
  • Social media से आपके website का जुड़ाव
  • अपना site का trust बढ़ाना 
  • दूसरे sites में guest posting करना
  • अपने competitor के backlinks को check करना

off-page SEO के विषय में अधिक जानकारी के लिए इस लेख को पढ़े –

तो उपरोक्त तीन प्रकार के SEO के जानकारी के पश्चात हमें SEO से सम्बंधित कुछ अन्य चीजों पर भी ध्यान केंद्रण करना चाहिए|

off page SEO के विषय में अधिक जानकारी के लिए यह लेख पढ़े – off page seo in hindi

Organic और inorganic SEO क्या होता है?

Organic SEO और inorganic SEO ये दो प्रकार के SEO को जानना भी बहुत आवश्यक है क्योंकि जब आप अपने blog के लिए content भी लिख लेते है तो इसका अर्थ यह नहीं होता की आपके पास अपरम्पार traffic आएगी| यह तो निर्भर करेगा की आप अपने site links कहाँ कहाँ पर देते है| 

1. Organic SEO क्या होता है

Organic SEO या Natural SEO से आशय ऐसे क्षेत्र से traffic gain करना जो authentic हो|इस तरीके के SEO से फायदा बहुत लम्बे समय में मिलता है,और समय भी अधिक लगता है|

मुख्यतः इस प्रकार के SEO में शामिल होते है-

  • content बनाना 
  • link बनानां 
  • meta Tag बनाना और उसको optimize करना 
  • सही keywords को चुनना  

2. Inorganic SEO क्या होता है?

Inorganic SEO या कृत्रिम SEO से आपको तीव्र परिणाम देखने को मिल सकते है और इसे करने में भी बहुत अधिक ऊर्जा व समय की आवश्यकता नहीं होती|

यह खर्चीला साबित हो सकता है और इसमें loss होने का खतरा अधिक होता है| 

 Inorganic SEO में मुख्यतः शामिल होते है – 

  • SEM या Search Engine Marketing करना
  • pay per click  विज्ञापन देना 
  • अपने site का affiliate marketing करना  

SEO और SEM क्या होता है

ये दोनों शब्द आपस में टकराहट पैदा करते है परन्तु दोनों में व्यापक अन्तर है| 

जहाँ SEO अपने blog को Search Engine के अनुकूल करने से सम्बंधित है वही SEM या Search Engine Marketing अपने ब्लॉग को search Engine में ऊपर लाने के लिए Search Engine, Social sites इत्यादि में विज्ञापन प्रदर्शित करना है|

तो एक प्रकार से SEM अपने साइट का SEO करना ही होता है वह भी inorganic तरीके से| इससे होता यह है कि जब कभी भी आप किसी product को लेकर search करेंगे तो आपको SEM वाले sites ही पहले number में दिखाई देंगे|

यह लेख अवश्य पढ़े :- सर्च इंजन मार्केटिंग क्या होता है ?

internet marketing kya hota hai

Internet Marketing से आशय अपने product को internet की सहायता से बेचना या किसी product को खरीदने से है|

जैसे अपने इ-पुस्तक बेचना, अपने service देना इत्यादि|

यह लेख अवश्य पढ़े :- social media marketing in hindi

अंतिम शब्द

इस लेख में हमने पहले SEO के सन्दर्भ में जानकारी दी है और यह भी बताया है कि SEO की आवश्यकता क्या है, उनके प्रकार तथा अंत में SEO से सम्बंधित अन्य तथ्यो पर प्रकाश डाला है| 

वास्तव में SEO जैसे technical terms की उत्पत्ति समय की देन है, जिस प्रकार से प्रतियोगिता बढ़ती जायगी SEO उतना ही tough होता जाएगा|

अंत में उम्मीद करता हूँ आपको हमारे लेख से SEO से सम्बंधित अनेक प्रश्नों के उत्तर मिल गए होंगे| यदि आप किसी प्रकार का सुझाव हमें देना चाहते है तो comment section में दे ताकि हम अपने वास्तविकता को पहचान सके और आने वाले Blog में उसे ना दोहराए|

Subscribe
Notify of
guest
4 Comments
Newest
Oldest
Inline Feedbacks
View all comments