technical seo in hindi

technical SEO क्या होता है

technical seo in hindi

जब कभी SEO के विषय में चर्चा होती है, तो हम off page SEO और on page SEO की ही बात करते है और Technical SEO को या तो छोड़ देते है या अत्यधिक technical होने की वजह से इस पर ध्यान नहीं देते और इस कारण हम अपने website से SEO के एक प्रमुख घटक को miss कर देते है, ऐसे में यह लेख technical SEO kya hai आपको technical SEO की समझ को बढ़ाने के लिए लिखा गया है|

technical SEO तीनो SEO में से सबसे प्रमुख और काफ़ी हद तक tough माना जाता है, क्योंकि यदि आपके technical SEO में किसी प्रकार की त्रुटि पाई जाती है तो आपके सभी प्रकार के SEO effort waste हो जाते है| 

यही कारण है कि blogging में technical SEO को बहुत अधिक महत्वपूर्ण कहा गया है और इसे सही तरीके से समझने के लिए कहा जाता रहा है, परन्तु Technical SEO के तकनीक से सम्बंधित होने के कारण बहुत से लोग इसे समझ नहीं पाते और बिना समझे और apply किये बिना अपने blog को post करते जाते है जिसका खामियाज़ा उन्हें वक़्त के साथ पता चलता है जब उनकी blog की ranking बढ़ ही नहीं पाती| 

technical SEO को लेकर एक बात बहुत अच्छी है कि एक बार इसके audit को सही तरीके से कर लेने के पश्चात इसे दुबारा वापिस मुड़ कर देखने की आवश्यकता नहीं रह जाती|

तो आइए बिना देरी किए हम समझते है कि आखिर यह technical SEO होता क्या है?

 किसी website को तकनीकी रूप से search engine के लिए optimize करना ही technical SEO कहलाता है|इसमें शामिल होते है- अपने website के loading speed को बढ़ाना, sarch engine को हमारे site पर आसानी से crawl करवाना,  sitemap, indexing करना इत्यादि| 

इसे technical नाम इसलिए दिया गया है क्योंकि यह ना तो आपके site के भीतर के content में किसी प्रकार के बदलाव से सम्बंधित है(अर्थात on page SEO) और ना तो यह आपके website के promotion से सम्बंधित है (अर्थात Off page SEO) इसका तो मुख्य उद्देश्य आपके website के infrastructure को strong करना है|

technical SEO महत्वपूर्ण क्यों है ?

यदि हम SEO के मूल पर जाए तो इसका अर्थ ही यह होता है कि हम अपने website को search engine के अनुकूल बना रहे है|इसका तात्पर्य हैं कि search Engine को हमारे site को खोजने में आसानी हो|

search engine यदि आपके page को find, crawl,render और index कर लेता है तो आपका site, Search engine के अनुकूल हो जाता है और यही technical SEO होता है| 

तो जितना महत्वपूर्ण आपका content बनाना और उसे promote करना होता है, उतना ही महत्त्वपूर्ण आपके website का search Engine के द्वारा पहचाना जाना और आसानी से आपके content को पढ़ पाना होता है| इसलिए technical SEO एक प्रमुख SEO है जिसके बिना हमारा blog पूरा नहीं हो सकता|

technical SEO के प्रमुख घटक क्या है ?

एक technical optimized website में अनेक से गुण होते है जो सामान्य website जो technical optimize नहीं होती है से उन्हें बहुत आगे रखती है इनमे से कुछ प्रमुख घटको का विवरण नीचे दिया जा रहा हैं-

1. fast website

वर्तमान समय में सब कुछ बहुत fast हो चुका है विशेषकर internet से सम्बंधित सारी चीजे तो अत्यधिक तीव्र गति से बदल रही है| ऐसे में उम्मीद की जाती है की webpage भी fastly load हो जाए| व्यक्ति अब ज्यादा load लेने वाले webpages पर रुकने का कष्ट नहीं करता| 

एक सर्वेक्षण के अनुसार 53% लोग उन websites को सीधे से नकार दिए जो load होने में 3 सेकंड से अधिक समय ले रहा था|तो ऐसे में अगर आपका website slow है तो व्यक्ति भटक सकता है और आपके site को अलविदा कह कर दूसरे site में जा सकता है और आप अपने traffic को रोक पाने में अक्षम रहेंगे| 

इसी प्रकार google पर भी slow website का बुरा प्रभाव पड़ता है, search engine होने के नाते google भी अपने customers को ऐसे site प्रदान करवाएगा जो speed है तो ऐसे में यदि आपका site slow है तो आपका content अच्छा होने के बावजूद searchengine द्वारा इसे पीछे किया जा सकता है| 

2. Search engine crawalability

google प्रत्येक webpage को पढ़ने के लिए एक व्यक्ति को नियुक्त करने का सामर्थ्य नहीं रखता इस कार्य के लिए उसने अपने कुछ crawler robots बनाए हुए है और ये robots आपके site के links के जरिए आपके content तक पहुंच पाते है| तो ऐसे में आवश्यक है कि आपका linking structure अच्छा और robot के लिए पहुंच में आसान होना चाहिए| 

इसके अतिरिक्त आप google robots को अपने किसी विशिष्ट content को पढ़ने से रोक भी सकते है, यह आपके हाथ में होता है कि आप अपने site के किन चीजों को crawl होने देना चाहते है| 

3. साइट जिसका कोई dead लिंक ना हो

जैसा की हमने ऊपर बताया है कि एक slow site किसी भी user के लिए बुरा अनुभव हो सकता है परन्तु इससे भी बुरा तो तब हो सकता है जब कोई user आपके किसी link पर click करे और वह exist ही ना करता हो ऐसे में आपका वह webpage 404 error  दिखाएगा|

इन pages के चलते अनेक users  और उनका अनुभव इसको लेकर काफी सख्त भी हो सकता है तो जरूरी है कि ऐसे links जो expire हो चुके है उन्हें जाना जाए और उसे repair किया जाए| ऐसे अनेक से plugins आज wordpress के लिए उपलब्ध है जिनसे आप expired links को आसानी से ढूंढ सकते है|

4. canonical page

कभी कभी तकनिकी खामी की वजह से आपके किन्ही दो लिंक में एक ही content हो जाते है, हालांकि पाठक के लिए यह कोई ख़ास मुद्दा नहीं रखता परन्तु crawlers के लिए यह एक विशिष्ट खामी के रूप में गिना जाता है|

सौभाग्य से इस तकनिकी खामी का हमारे पास तकनिकी इलाज़ भी है जो canonical link element के नाम से जाना जाता है, इसमें आप original page को पहचान सकते है या उस page को high rank दिला सकते है जिसे आप चाहते है|

5. साइट security

एक technical optimized site काफी secure site होता है| अपने users को अपने site पर safe feel करवाना आज बहुत महत्वपूर्ण task है| वैसे तो यहाँ अनेको चीजे है जिनके जरिए आप अपने site को secure कर सकते है पर उन सब मे सबसे प्रभावशाली तरीका है अपने site को HTTPS युक्त करना| 

https इस चीज की पुष्टि करता है कि browser और site के मध्य में कोई intercept नहीं कर सकता| तो यदि आपके site में कोई log in करता है तो उनके data safe रहता है| इसके लिए आपको SSL certificate लगाने की आवश्यकता होती है जो आपके site को https बना देती है| 

यद्यपि आप अपने site पर https की कड़ी को आसानी से check कर सकते है| यदि आपके search bar के बाएं भाग में lock का निशान है तो यह SSL युक्त site है|

ssl dikhate hue
चित्र स्त्रोत : SSL दिखाते हुए

6. sitemap (.xml)

यदि आसान भाषा में कहूं तो अपने सभी pages को search engine में submit करना ही sitemap कहलाता है| XML sitemap विशेषकर आपके site के सभी images, post, pages और tags को समाहित करता है|

अगर आदर्श रूप में देखा जाए तो search robots को sitemap की आवश्यकता ही नहीं होती है क्योंकि यदि आपने अपने site के सभी posts और blogs को well structure रखा है तो robots को किसी प्रकार के sitemap बनाने की आवश्यकता ही नहीं होती|

हालांकि sitemap बनाना बहुत ही आसान प्रक्रिया है और इससे आपके site पर किसी प्रकार का कोई भी effect नहीं पड़ता है इसलिए हम आपको recommend करते है कि आप sitemap अवश्य बनाए| क्योंकि इससे crawl robots का काम आसान हो जाएगा|

7. international site के विषय में

यदि आपका website का content ऐसे भाषा से सम्बंधित है जो एक से अधिक देश में बोला जाता है तो ऐसे में search engine को यह दुविधा हो सकती है कि आपका website वास्तव में किस देश को सम्बोधित करेगा|

जैसे मान लीजिए आप हिंदी में लिखते है तो हमें पता है कि पाकिस्तान, बांग्लादेश और यहां तक कनाडा और अमेरिका जैसे स्थानों में भी हिंदी बोला और समझा जाता है ऐसे में search engine को बता दिया जाए कि हम अमुक भाषा का इस्तेमाल कर रहे है और हमारा content अमुक देशो में दिखाया जाना चाहिए तो यह search engine के लिए आसान हो जाएगा| 

Hreflang tags आपकी इस प्रकार की समस्या को दूर करता है| आप यहाँ बता सकते है कि आपका page किस देश और किस भाषा का प्रतिनिधित्व करता है| इसके अलावा यह आपके विभ्भिन प्रकार की copyright सम्बन्धी समस्याओ को भी दूर करता है जैसे ये पाक और भारत में एक ही तरह के content को आसानी से पेश किया जा सकता है, google आसानी से समझ जायगा कि यह दो अलग अलग इलाके के लिए बना हुआ है|

अंतिम शब्द

Technical SEO को इसीलिए toughest SEO कहा जाता है क्योंकि इसके अनेको factors bloggers के नाक में दम कर देते है| परन्तु यदि आपको सही मार्गदर्शक और content मिल जाता है तो आप technical SEO में काफी हद तक परांगत हो जाते है|

इस लेख में हमने Technical SEO से सम्बंधित सभी प्रमुख शीर्षकों को पूरा किआ है जिनमे शामिल है- Technical SEO क्या है , यह महत्वपूर्ण क्यों है और इसके प्रकार क्या क्या है इत्यादि| 

आशा करता हूँ आपको यह लेख technical SEO in Hindi काफी प्रासंगिक और आपके खोज के अनुकूल लगा होगा, परन्तु फिर भी यदि लेख में किसी प्रकार की कोई कमी रह गई हो तो आप comment box में हमें बता सकते है, इसके अतिरिक्त आप हमसे संपर्क भी कर सकते है| 

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments