Blogger vs WordPress in Hindi

blogger vs wordpress in hindi

क्या आप भी इस दुविधा में है कि Blogging के लिए blogger vs WordPress में कौन सा बेहतर है? आज हम आपकी इस समस्या को इस लेख blogger vs WordPress in hindi के माध्यम से दूर कर देंगे। इसके अतिरिक्त आपको यह भी पता चल जायगा की blogger vs WordPress एक दूसरे से कैसे भिन्न है। 

वैसे तो आज wordpress और  blogger के अतिरिक्त अन्य भी विकल्प मौजूद है जिसमे कुछ प्रमुख है- wix, medium linkedin इत्यादि।  पर यहाँ हम प्रमुखता से केवल दो ही blogging platforms की बात करेंगे। 

यदि आप blog के विषय में नहीं  जानते तो ये लेख आपके काम आएँगे-

blog kya hota hai

14 successful blogging tips in hindi

यद्यपि जब कभी भी हमारे पास अनेक विकल्प होते है तो हम किसी एक को चुनने के लिए विलोपन विधि (elemination method )का सहारा लेते है और blogging platform के चयन के प्रक्रिया में हमारे पास wordpress और  blogger ये दो विकल्प ही शेष बचते है। 

अतः बिना किसी विलंब के हमें अपनी blogger vs  wordpress in hindi की चर्चा आरम्भ करनी चाहिए। 

blogging के उदय के साथ ही blogging platforms  ने भी अपना विकास आरम्भ किया। चूँकि ब्लॉग लिखने के लिए किसी ना किसी platform की आवश्यकता  थी। 

ऐसे में 23 अगस्त 1999 में , Pyra labs नामक कंपनी ने Blogger को लांच किया।  चूँकि blogger विश्व में उस समय तक एक मात्र blogging प्लेटफार्म था इसलिए google ने उसकी तरक्की देखकर 2003 में उसे खरीद लिया। वर्तमान में blogger , google के एक उत्पादक के रूप में कार्य कर रहा है जो लोगो को blogging के लिए बिलकुल मुफ्त blogging platform मुहैया करता है। 

लगभग इसी समय 2003 में Matt Mullenweg और Mike Little ने अपने एक नए प्रोडक्ट को लांच किया जिसका नाम था WordPress और आगे चलकर wordpress ने सम्पूर्ण blogging जगत में क्रान्ति ला दी। 

एक नजर में : blogger vs wordpress

जैसा की हमने ऊपर बताया है कि wordpress और blogger दोनों दुनिया के सबसे प्रमुख blogging platform है। 

Builtwith नामक blogigng शोध संस्था के एक शोध के अनुसार , दुनिया के प्रमुख 10 लाख blogging websites में से 35% wordpress पर बने हुए है। इसी report में blogger को दूसरा सबसे अधिक प्रचलित website कहा गया है जो दुनिया के प्रमुख 10 लाख blogging websites में से 1% स्थान को घेरता है। 

इसके अतिरिक्त जब हमने google trends पर wordpress और blogger के वर्तमान के trend को देखा-

google trend
google trends पर वर्डप्रेस बनाम ब्लॉगर

उपरोक्त screenshot से आप देख सकते है कि 2019-2020 के अंतराल में wordpress vs blogger का google trend क्या था।

wordpress क्या है ?

wordpress एक CMS (content management system) है जो हमें आसानी से website , blog या ऑनलाइन store  बनाने का स्थान प्रदान करता है।  आज इंटरनेट के 30% websites wordpress पर ही चला रही है। 

आप wordpress को आसानी से download कर सकते है, और आप जितनी चाहे उतनी website इस पर चला सकते है। 

वैसे तो आप wordpress पर मुफ्त website चला सकते है परन्तु, चूँकि wordpress एक CMS है तो यदि आप self host करते है और बाहर से domain खरीदते है तो भी आप आसानी से wordpress install करके इसमें चला सकते है,यह आपको सुनने में थोड़ा जटिल प्रक्रिया लग सकता है परन्तु यह वास्तव में  बहुत आसान है। 

अधिक जनकारी के लिए इस लेख को अवश्य पढ़े – wordpress क्या है और इसे कैसे इस्तेमाल करे?

blogger क्या है ?

blogger एक free blog hosting service की तरह है जो आपको मुफ्त में blogging site बनाने का अवसर प्रदान करता है आप चाहे तो मुफ्त domain भी प्राप्त कर सकते है जो इस प्रकार से होगा-

www.yourname.blogspot.com

इसके अतिरिक्त आप किसी third party domain registrar से custom domain भी खरीद सकते है और इसे फिर आप अपने blogger site से connect कर सकते है। 

Matt Cutts के अनुसार Blogger or WordPress में कौन अधिक बेहतर है :-

Matt Cutts जो स्वयं एक google के वरिष्ठ इंजीनियर ही नहीं अपितु google spam team के मुख्य प्रबंधक भी है। इन्होने  google SEO  से सम्बन्धित अनेको तथ्यों पर प्रकाश डाला है जो आपके लिए उपयोगी सिद्ध हो सकता है। उनकी इस video को अवश्य देखे –

दिलचस्प तथ्य है कि Matt Cutts स्वयं अपने व्यक्तिगत ब्लॉग में wordpress का इस्तेमाल करने के बात को स्वीकारते है। उन्होंने इस बात को प्रमुखता से रखा है कि blogger नए users के लिए काफी अच्छा विकल्प है जहाँ आप आसानी से blogging करना सीख सकते है। वे कहते है कि सामान्य और नियमित blogging के लिए blogger बहुत जबरदस्त विकल्प है। 

जब बात SEO anlysis की आती है तो भी वे कहते है कि SEO के लिए यह मुद्दा नहीं रखता कि आपने किस platform का चयन किया है, क्योंकि यदि आपने अपने ब्लॉग को काफी अच्छे से optimize कर लिया है तो यह rank करेगा ही। अर्थात Matt Cutts SEO के मामले में भी दोनों को बराबर कहते है। 

Matt तो यह भी कहते है कि wordpress की default सेटिंग उसे SEO friendly नहीं बनाती हालांकि आप स्वयं से अपने ब्लॉग को seo friendly बना सकते है इसके अतिरिक्त wordpress आपको अधिक सरलता से अपने blog को customize करने का अवसर प्रदान करता है।

Blogger vs WordPress in hindi : WordPress ही क्यों?

आइए अब हम तुलनात्मक रूप से देखते है कि blogger और wordpress में बेहतर कौन है। 

1. ease of use के आधार पर : blogger vs wordpress in hindi

अधिकतर bloggers, web developer ना होकर एक सामान्य blogger होते है जो अपने जूनून या brand को ऊपर लाना चाहते है ऐसे में सरल platform की आवश्यकता बहुत अधिक  बढ़ जाती है। 

blogger में –

blogger की बात करे तो यह प्लेटफार्म भी आपको सरलता और सहजता प्रदान करता है। यहाँ आप आसानी से कुछ ही मिनटो में समझ सकते है कि पोस्ट कैसे किया जाए, theme कैसे लगाया जाए इत्यादि।

wordpress में –

wordpress में हमें किसी प्रकार के coding skill की जरुरत नहीं पड़ती है परन्तु यह आपको सामान्य कंप्यूटर की समझ की आवश्यकता पड़ती है जिससे आप wordpress को install कर सके और plugins का बेहतर उपयोग कर सके। 

winner: TIE 

2. ownership के आधार पर : blogger vs wordpress in hindi

blogger में – 

blogger या blogspot; google का ही product है अर्थात इस पर google का पूरा नियंत्रण होता है। इसका एक अर्थ यह निकाला जा सकता है कि blogger पर google का पूर्ण हक़ है, अर्थात google आपको बिना पूर्व चेतावनी दिए आपके ब्लॉग को बंद कर सकता है।

wordpress में –

जबकि wordpress; में आप wordpress के hosting provider पर अपना site बनाते है और चूँकि wordpress एक स्वतंत्र निकाय है इस कारण इस पर बनाए गए site पर आपका स्वयं का अधिकार रहेगा। 

winner: wordpress

3. flexibility के आधार पर : blogger vs wordpress in hindi

एक अन्य महत्वपूर्ण तुलनात्मक बिंदु यह है कि आप किस platform पर अधिक आसानी से अपने blog को आधुनिक कर  सकते है अर्थात आप किस ब्लॉग पर जयदा बेहतर  design और fuctionality आसानी से कर सकते है। 

blogger में –

यदि हम blogger की बात करे तो यहाँ सिमित tools उपलब्ध है जिनसे आप अपने blog को रचनात्मक बना सकते है और मुख्य समस्या तो यह है कि आप इसमें अन्य नए tools को नहीं जोड़ सकते। 

blogger में विशेषकर popups और ecommerce जैसे tools तो है ही नहीं। 

wordpress में –

यदि हम wordpress की बात करे तो जैसा की हम जानते है कि wordpress एक open source software है तो इसमें आप अनेक प्रकार के fuctionalities प्राप्त कर सकते है। 

यहाँ तक की आप इसमें thirdparty plugins को भी install कर के अपने blog को अधिक अनुकूल बना सकते है। 

यदि आप wordpress plugins store पर जाते है तो करीब 55000+ plugins देख सकते है। 

winner: wordpress

4. SEO के आधार पर : blogger vs wordpress in hindi

आपको अंत में केवल पाठको या audience की आवश्यकता ही रहेगी। ऐसे में यह मुद्दा नहीं रखता कि आपने blog किस platform पर बनाया है क्योंकि आपको audience तभी प्राप्त होंगे जब आप अपने blog को search engine के अनुकूल  बनांयेंगे। 

blogger में –

blogger में आपको अपने blog के SEO के लिए बहुत ही कम विकल्प मौजूद रहते है ऐसा इसलिए क्योंकि आपके पास ना तो किसी प्रकार के plugins तक की पहुंच होती है और ना ही किसी प्रकार की विशेष setting तक। 

wordpress में –

यहाँ wordpress में आपको बेहतर SEO करने को मिलता है, जिससे आप अपने blog को highest rank करवा सकते है। 

इसके लिए आपके पास wordpress में बेहतरीन plugins के साथ साथ जबरदस्त SEO settings भी होता है। 

winner: wordpress

5. themes, plugins और templates के आधार पर : blogger vs wordpress in hindi

Themes Plugins & templates ऐसे तत्व है जो आपके SEO से ले कर site के look को तय करते है। ऐसे में बेहतर से बेहतर look और site SEO रखने की चाह किसे नहीं रहेगी। 

blogger में –

blogger में Themes और templates बहुत ही सीमित मात्रा में उपलब्ध है जबकि plugins जैसा कोई तत्त्व का तो blogger के साथ दूर दूर तक कोई नाता नहीं है। 

wordpress में –

Themes Plugins & templates तीनो ही wordpress में बहुत ही आसानी से और व्यापक रूप से उपलब्ध है, तो इससे आपको अपने website का look और SEO आगे रखने में बहुत फायदा मिलता है। 

blogger vs wordpress in hindi
wordpress plugin screenshot

ऊपर screenshot दिया गया है जिसमे आप देख सकते है की plugin को कितनी आसानी से हम wordpress में download कर सकते है 

winner: wordpress

6. contact और support के आधार पर : blogger vs wordpress in hindi

संपर्क और सहायता दो ऐसे कारक है जिनकी सहायता से आप किसी भी field में आसानी से आगे बढ़ सकते है। 

यद्यपि ये दोनों तत्व हमें परजीवी बनाते है, परन्तु सहायता माँगना परजीवी होने से अधिक अपनत्व और सम्बन्ध की भावना को बढ़ाता है। 

ऐसे तो संपर्क हेतु दोनों ही platform के पास e -mail adress और अपने स्वयं के सहायता समूह है, परन्तु यहाँ बात मुख्ततः सामने से मिलने वाली प्रतिक्रिया पर हो रही है। 

blogger में –

यहाँ बहुत ही छोटा सहायता समूह मिलता है, तथा इनका documentation से लेकर user forum भी नाम मात्रा के बराबर है। 

blogger में उपलब्ध forum को आप नीचे देख सकते है-

wordpress vs blogger in hindi

चूँकि blogger, google के द्वारा blogging करने के लिए उपलब्ध free platform है तो ऐसे में आपको free में हर चीज सटीक मिले यह असंभव है।   

wordpress में –

wordpress ने open source software होने के चलते और बहुत अधिक customers होने के कारण अपने support forum को बहुत responsive बना दिया है। 

चूँकि wordpress पर दुनियाभर के top bussiness sites चलते है ऐसे में अपने support system को मजबूत रखना आवश्यक हो जाता है। 

wordpress support

wordpress सर्वाधिक सक्रिय और लोकप्रिय content management system है जिसके चलते आपको wordpress में कोई समस्या आने पर भी इंटरनेट में  आपको अनेक blog मिल जाते है। यह भी इसकी सहायता क्षेत्र को बढ़ा देता है। 

winner: wordpress

7. security के आधार पर : blogger vs wordpress in hindi

site security एक अन्य महत्वपूर्ण मापदंड है जिसके आधार पर हम तुलना कर सकते है। क्योंकि जब आपका site ही सुरक्षित नहीं है तब  साइट में आपके निवेश और दिए गए समय व्यर्थ हो जाते है। 

blogger में –

google के उत्पाद होने के कारण security में blogger को सकारात्मक दृष्टिकोण मिल जाता है।  

परन्तु यहाँ बात फिर गूगल के रहम करम पर आ जाता है। अर्थात आपका site सीधे google बाबा के निगरानी में होता है, मतलब आपके सब चीजों पर google का नज़र है। 

ऐसे में आप दूसरो से अपने साइट को बचा तो लेते है परन्तु स्वयं google को आपने सम्पूर्ण हक़ दे दिया है। 

backup के मामले में आपको अधिक चिंता होने की जरूरत  नहीं है क्योंकि google स्वतः ही आपके डाटा को cloud में स्टोर करते जाता है। 

wordpress में –

wordpress इस मामले में काफी secure है क्योंकि यहाँ self hosted site होने की वजह से आप स्वयं इसके सुरक्षा के लिए जिम्मेदार होते है। 

अर्थात यहाँ नियमित backup बनाने से लेकर spam से बचने तक का जिम्मेदारी आप पर आ जाता है। 

हालांकि यहाँ हमें अनेको plugins भी मिल जाते है जो हमारे इस काम को आसान बना देते है। इस कारण यहां backup से लेकर site को hacking तक से बचाने की प्रक्रिया अधिक आसान हो जाती है। 

winner: wordpress

8. career के आधार पर :

आपके ब्लॉग का भविष्य सीधे सीधे आपके blogging platform के भविष्य से जुड़ा है। जब तक आपके blogging platform का जीवन है तब तक आपका blog जीवित है। 

blogger में –

google, blogger के update देने में अति संकोच जाहिर करता है। ऐसे में पुराने version में अपने blog को बनाये रखना आपको अन्य से पीछे तो करता ही है साथ ही भविष्य के लिए भी सूचित कर देता है। 

बहुत लम्बे अरसे के बाद कोई update देखने को मिलती है। जिस कारण यह अन्य content management system से वैसे ही पीछे हो जाता है।

वैसे blogger का भविष्य google पर निर्भर करता है क्योंकि google के पास blogger सम्बंधित सारे अधिकार है तो इस कारण यहाँ आपका blog भी google के भरोसे पर है 

wordpress में –

जैसा कि आपको ऊपर बताया गया है कि  wordpress एक open content management system है अर्थात इसकी बागडोर किसी तीसरी पार्टी के हाथ में ना हो कर एक निजी व्यक्तिगत संस्था के हाथो में है। 

इस कारण wordpress अपनी पूरी क्षमता इसके भविष्य को बनाने में लगा सकता है जिसका सीधा मतलब है आपके blog का भविष्य। 

सर्वाधिक लोकप्रिय CMS होने के कारण इसे अपने भविष्य की चिंता बानी रहती है इसी कारण इसके अपडेट भी निरंतर आते रहते है। 

winner: wordpress 

9. export के आधार पर :

जब आप blog बनाते है तो कई बार किसी कारणवश आपको अपने hosting से लेकर अपने management system को बदलने की आवश्यकता पड़ती है 

ऐसे में यह जानना आवश्यक हो जाता है कि कौन सा  content management system आपको विस्थापन की सुविधा प्रदान करता है। 

blogger में –

blogger से आपके site को किसी अन्य content management system में transfer करना एक जटिल प्रक्रिया हो जाता है। 

यहां यह प्रक्रिया जोखिम भरा भी हो सकता है क्योंकि इससे आपकी SEO ranking गिर सकती है, subscriber ,customer तथा follower भी डाउन हो सकते है। 

हालाँकि google आपको  अपने data को export करने का विकल्प अवश्य देता है जिससे आप अनंत काल तक अपने डाटा को google के server पर स्टोर कर के रख सकते है। 

wordpress में –

wordpress में आप अपने content को जहा चाहे वह ले जा सकते है। 

आप अपने site को नए hosting से जोड़ सकते है, अपना domain name change कर सकते है और यहाँ तक कि आप अपने content को किसी अन्य content management system में भी transfer कर सकते है। 

winner: wordpress

10. monetization के आधार पर :

मौद्रीकरण को मापदंड के रूप में इसलिए लिया गया है क्योंकि बहुत से लोग blogging को एक पेशे के रूप में भी देखते है ऐसे में यह जानना जरुरी हो जाता है कि कौन सा CMS मौद्रीकरण के अनुकूल है। 

blogger में –

अगर आप blog को जूनून के रूप में देखते है और इसे केवल आदत के तौर पर लिखते है तो आपके लिए blogger बहुत अच्छा विकल्प हो सकता है क्योंकि यहाँ आप बिना किसी लागत के अपने अभिरुचि को जनता के सम्मुख रख सकते है। 

वैसे blogger में adsense approval पहले  बहुत सरलता से हो जाता था किन्तु वर्तमान समय में adsense approve होने में बहुत अधिक कठिनाई देखी जा रही है। 

wordpress में –

यदि आप अपने blog के अभिरुचि को पैसे से जोड़ना या आप आधुनिक तरीके से blogging करना चाहते है तो आपको wordpress में जाना चाहिए। 

wordpress adsense और अन्य e-commerce के अनुकूल है।आप बहुत ही आसानी से अपने साइट में adsense approval पा सकते है। 

अतः यदि मौद्रीकरण की बात करे तो wordpress अवश्य ही blogger से आगे है। परन्तु अभिरुचि के रूप में blogging करने के लिए  आप दोनों में से किसी भी विकल्प में जा सकते है। 

winner: wordpress

अंतिम शब्द : wordpress vs blogger in hindi

हमने इस लेख में बहुत से मापदंडो पर wordpress vs blogging का तुलनात्मक अध्ययन किया है। परिणाम के रूप में हमने देखा की blogger मुश्किल से एक मापदंड पर ही wordpress से आगे है। 

परन्तु यह हमारा अंतिम निष्कर्ष नहीं बनता। हमारा अंतिम निष्कर्ष निम्न है- 

blogging करने से पूर्व आपको स्वयं से यह पूछना आवश्यक है कि आप blogging किस मकसद से कर रहे है। क्योंकि यदि आपका मकसद केवल अपने योग्यता को बढ़ाना है तो आपको blogger जबकि अगर आपकी इच्छा अभिरुचि को मुद्रा में परिवर्तित करना है तो आपको wordpress के लिए जाना चाहिए।  

इसके अतिरिक्त Matt Cutts जैसे google के प्रमुख सहयोगी ने भी wordpress vs blogging में अपनी राय में यही कहा है की आपको स्वयं ही अपने मकसद के आधार पर CMS का चयन करना चाहिए।  

आशा करता हूँ कि इस लेख से आपको स्पष्ट रूप से समझ आ गया होगा कि आपके लिए सबसे बेहतर विकल्प क्या होगा। 

Subscribe
Notify of
guest
1 Comment
Newest
Oldest
Inline Feedbacks
View all comments