9 best WordPress plugins in Hindi

best WordPress plugins in Hindi

वर्डप्रेस में प्लगइन्स का उपयोग आपके साइट की सुंदरता के साथ साथ आपके कार्यक्षमता को भी आगे बढ़ाता है आज हम यहाँ 9 best wordpress plugins in hindi के विषय में जानकारी प्रदान कर रहे है, ये सभी plugins हमारे साइट पर सक्रिय है, अर्थात यहां आपको बताए जाने वाले plugins का हम ईमानदारी से review दे सकते है और साथ ही आपको प्रयोग के लिए बेहतरीन विकल्पों को भी पेश कर सकते है।

 आइए बिना देरी किए जानते है  9 best wordpress plugins in hindi के बारे में वो भी hindi में, परन्तु उससे पूर्व हमें यह जानना आवश्यक है कि wordpress plugin क्या होता है? 

wordpress plugins आपके साइट की सहायता करने वाला ऐसा उपकरण है जिससे आप बिना किसी भी प्रकार के कोडिंग के आसानी से अति आवश्यक चीजों को अपने साइट में शामिल कर सकते है।

तो हम देखते है कि वर्डप्रेस ने अपने कार्य को और अधिक व्यवहारिक और सरल बनाने के लिए plugins का भी प्रयोग करना उचित समझा है।  wordpress सम्पूर्ण रूप से ब्लॉग्गिंग website निर्माण करने वाले CMS के रूप में परिवर्तित हो चुका है। 

wordpress क्या है?

9 best WordPress plugins in hindi

आइये एक एक कर जानते है इन 9 best wordpress plugins in hindi के बारे में –

yoast SEO wordpress के सर्वाधिक लोकप्रिय plugins में से एक है। wordpress का उपयोग करने वाले लगभग सभी bloggers yoast SEO का महत्व जानते है, और उनके plugins में यह निश्चित रूप से सक्रिय होता है।

yoast best wordpress plugins in hindi

जैसा कि नाम से ही पता चलता है, यह plugin आपके ब्लॉग पेज का SEO करने में आपकी सहायता प्रदान करता है। परन्तु अब इसने स्वयं को केवल SEO सुधार करने वाले plugin के छवि से स्वयं को बहार निकल कर अन्य बहुत से कार्य करता है –

  1. SEO का analysis करना,
  2. आपके लेखन को पाठक के अनुकूल बनाना,
  3. आपके साइट का sitemap बनाना,
  4. semrush के साथ आपके साइट को link करना,
  5. breadcrumbs बनाने में सहायता करना और
  6. आपके सभी सोशल मीडिया समूहों को एक स्थल पर लाकर उसे आपके वेबसाइट से लिंक करना

जब आप yoast SEO plugin को इनस्टॉल करके अपने वर्डप्रेस साइट पर एक्टिव करते है, वैसे ही यह कार्य करना आरम्भ कर देता है तथा आपको कुछ और करने की आवश्यकता ही नहीं रह जाती। 

इसके पश्चात आपके प्रत्येक ब्लॉग पोस्ट के कम्पलीट होने के बाद और आपके पोस्ट को पब्लिश करने से पूर्व यह आपके साइट के SEO को लेकर सूचित करता है। इसमें आपके SEO करने हेतु पहले से ही कुछ मानकों को तय कर दिया गया है, आपको content को सिर्फ उस मानक के आस पास तक लाना होता है, और बस हो गया आपके कंटेंट का  SEO .

यह भी पढ़े – seo tutorial in hindi 

जब बात ब्लॉग्गिंग या साइट निर्माण की आती है तो आपके समक्ष जो दूसरी चीज आती है वह है आपके साइट की सुरक्षा। हम सभी जानते है कि डिजिटल प्लेटफार्म कितना बड़ा है और इस कारण यहाँ स्वयं के साइट को सुरक्षित रख पाना बहुत अधिक आवश्यक है।  आये दिन लोगो के वेबसाइट हैक होने की खबरे आती है। वेबसाइट होने का अर्थ आपके सुरक्षा के विफल होना मात्र नहीं है, अपितु यह आपके सम्पूर्ण करियर के रुख को मोड़ देती है , आसमान से जमीन पर देती है। 

तो यदि आपके पास पहले से ही सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम होंगे तो आप अपने साइट के लिए काफी हद तक निश्चिंत हो सकते है। 

wordfence आपके साइट की सुरक्षा पर चार चाँद लगा देता है। मैं यह नहीं  हूँ कि सुरक्षा के मामले में यह सबसे बेहतर है , परन्तु यह अपने स्तर पर किसी दूसरे से कम भी नहीं है। 

wordfence आपके साइट की सुरक्षा निम्न स्तरों पर करता है –

  1. firewall सुरक्षा प्रदान करना, जिसमे  बाहर से आपके साइट में होने वाले आक्रमण से आपके साइट की सुरक्षा शामिल है। 
  2. एक निश्चित लॉगिन में विफलता के पश्चात उस लॉगिन कर्ता के IP एड्रेस को ब्लॉक करना। 
  3. दुनिया के सभी देशो के हैकरों को आपके साइट पर आक्रमण करने से पूर्व एक दीवार का निर्माण करना। 
  4. सुरक्षा के सम्बन्ध में नवीनतम ब्लॉग से आपको अवगत करवाना।
  5. प्रत्येक बार लॉगिन किए जाने के सम्बन्ध में आपको मेल के माध्यम से सूचित करना। 
  6. नियमित रूप से आपके साइट का स्कैन करना तथा मैलवेयर व अन्य प्रकार के वायरस से साइट की सुरक्षा करना।

 यह भी पढ़े – antivirus kya hota hai ?

यदि आप अपने साइट पर आने वाले सभी viewers के डाटा कलेक्ट करना चाहते है जिसमे शामिल है –

  1.  वेबसाइट पर आने वाले कुल लोगो की संख्या 
  2. किसी निश्चित पोस्ट को एक निश्चित समय अंतराल में देखे जाने वाले लोगो की संख्या 
  3. अपने वेबसाइट पर ट्रैफिक बढ़ाने के लिए सुझाव 
  4. साइट की स्पीड 
  5. साइट पर आने वाले पाठको का व्यवहार 
  6. लोगो का आपके साइट को लेकर यूजर एक्सपीरियंस 
  7. adsense से होने वाली कुल कमाई 
  8. आपके साइट की overall performance 

ये सभी आपको एक प्लगइन के भीतर ही प्राप्त हो जाएंगी, और उस प्लगइन का नाम है – site kit by google.

चूँकि आपको अपने साइट के performance को लेकर एक विश्वसनीय डाटा की आवश्यकता होती है, परन्तु प्लगइन के तौर पर आज बाजार में बहुत से विकल्प मौजूद है, लेकिन फिर भी आपको सर्वाधिक विश्वसनीय तथ्य गूगल के बनाए हुए प्लगइन से ही प्राप्त होगा।

प्रत्येक ब्लॉग पोस्ट के अन्त मे लेखक का नाम उजागर करने के लिए wordpress में एक plugin मौजूद है जिसका नाम simple author box है। इसका कार्य लेखक के परिचय को देना होता है। इसमें आप ब्लॉग के लेखक के विषय में सभी प्रकार के जानकारियों को मुहैया करा सकते है जिसमे शामिल होता है –

  1. लेखक का नाम 
  2. लेखक का पता 
  3. लेखक से संपर्क करने हेतु आवश्यक सोशल मीडिया के लिंक 
  4. फोन नंबर 
  5. लेखक का शैक्षणिक स्तर

ध्यान देने वाली महत्वपूर्ण बात यह है कि simple author box free और pro दोनों संस्करणों में आता है और जाहिर है दोनों के बीच की विशेषताएं भिन्न होती हैं।

 जब आप अपने कंटेंट को पूरा कर देते है तो आपके पास जो प्रमुख task बचता है वह है आपके ब्लॉग कंटेंट को अधिक से अधिक लोगो तक पहुंचाना। यह कार्य आप एक सीमा तक ही कर सकते है।

आप क्या करेंगे?

आप अधिक से अधिक अपने व्हाट्सप्प और फेसबुक जैसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म में अपने कंटेंट के लिंक को शेयर करेंगे। इससे आपको अंत में कुछ हासिल नहीं  होगा क्योंकि आपके परिचित जो व्हाट्सप्प और फेसबुक में है वो आपके पोस्ट को कभी भी पूरा नहीं पढ़ेंगे। 

तो इसे अधिक से अधिक लोगो तक कैसे पंहुचाया जायेगा? क्या हो यदि यह कार्य वे लोग करे जो आपके लेख को पढ़ने आये हो? 

जी हाँ यदि आपके पाठक को आपका कंटेंट अच्छा लगता है और यदि आपने अपने वेबसाइट पर सोशल शेयरिंग का प्लगइन लगाया हुआ है, तो इसकी सम्भावना अधिक है कि आपका कंटेंट उसके द्वारा शेयर किया जायेगा। 

sassy social share एक ऐसा ही plugin है जो आपके पाठको को एक अवसर प्रदान करता हैं कि वे आपके ब्लॉग को आगे अन्य लोगो तक पहुचाये।

इस plugin में अनेको प्रकार के सोशल मीडिया प्लेटफार्म का बटन होता है। इसके साथ ही इसमें फ्लोटिंग और फिक्स्ड सोशल मीडिया का विकल्प भी मौजूद होता है। इसके साथ ही आपको यहाँ सोशल शेयर किये जाने वाले कुल संख्या भी प्राप्त होता है।  

lite speed cache एक ऑल-इन-वन साइट एक्सेलेरेशन plugin है, जिसमें एक विशेष सर्वर-स्तरीय cacheऔर optimization सुविधाओं का संग्रह है।

अपने साइट के लिए किसी भी cache plugin की आवश्यकता क्यों होती है? असल में cache का अर्थ होता है आपके साइट में एक बार आ चुके पाठक के लिए अगली बार पेज लोडिंग स्पीड को कम करना। अतः इसके लिए प्रयुक्त plugin कुछ और नहीं अपितु एक सर्वर में सभी आवश्यक डाटा को लोड कर लेता है और इसे उस पाठक के मोबाइल में स्टोर कर के रख देता है अतः अब जब भी वह पाठक उस पेज में दुबारा आएगा तो उस सर्वर से डाटा को शीघ्रता से cache कर लेता है। और पाठक के लिए पेज शीघ्र से खुल जाता है। 

lite speed cache में शामिल है –

  • Object Cache 
  • Image Optimization (Lossless/Lossy)
  • Minify CSS, JavaScript, and HTML
  • Minify inline CSS/JS
  • Combine CSS/JS
  • Automatically generate Critical CSS
  • Lazyload images
  • PageSpeed score optimization
  • Import/Export settings
  • Attractive, easy-to-understand interface
  • WebP image format support

litespeed cache एक बेहतरीन plugin है इसी कारण इसे हम 9 best wordpress plugins in hindi.

बहुत से वेबसाइट तो ऐसे है जो भारी भरकम images से भरे होते है। आप सोच रहे होंगे इससे वेबसाइट पर क्या प्रभाव पड़ेगा? जी पड़ेगा , और छोटा मोटा नहीं बहुत विध्वंसकारी प्रभाव पड़ेगा। एक भारी भरकम इमेज आपके वेबसाइट के लोडिंग स्पीड को बढ़ा देती है अर्थात हम जानते है कि 1 mb के इमेज को लोड होने में 100 kb के इमेज से अधिक समय लगेगा, परन्तु क्या ऐसी कोई तरकीब है जिसके माध्यम से हम 1 mb के इमेज को 100 kb के इमेज में परिवर्तित कर दे और इमेज की क्वालिटी में भी कोई अंतर ना आये। 

यह संभव है, यदि आप अपने इमेज के फॉर्मेट को png या jpeg से webP में कर दे तो। 

webP इमेज फार्मेशन का एक ऐसा संस्करण है जो इमेज की गुणवत्ता को बिना गवाए उसके साइज को बहुत कम कर देता है। इसे चेंज करने के लिए आप imagify नामक plugin का प्रयोग कर सकते है। 

imagify plugin आपको अवसर प्रदान करता है –

  1. अपने सारे images को bulk में optimize करने का
  2. इमेज को तीन स्तर तक कंप्रेस करने का (normal, agressive & ultra)
  3. सारे images को webP के रूप में बदलने का। 

यद्यपि wordpress में पहले से ही ब्लॉक एडिटर मौजूद है परन्तु यह वर्तमान समय के अनुरूप स्वयं को नहीं ढाल पाया है, और  यही कारण है कि लोग elementor जैसे plugins का इस्तेमाल अपने कंटेंट लिखने और टेम्पलेट्स बनाने के लिए प्रयुक्त करते है। 

elementor आपको प्रदान करता हैं –

  1. professional features
  2. live page builder
  3. live content & template maker
  4. fast working
  5. instant publishing
  6. best user interface
  7. profesional text editor
  8. Motion Effects
  9. Industry leading Theme Builder
  10. WooCommerce Builder
  11. Advanced Popup Builder
  12. Visual and intuitive form builder

अपने ब्लॉग पोस्ट में कंटेंट शुरू करने से पूर्व ही विषय सूची स्थापित करने से ब्लॉग अधिक प्रोफेशनल के साथ साथ अभिव्यक्त करने में भी सरल और सुन्दर प्रतीत होता है। 

हालाँकि टेबल ऑफ़ कंटेंट बनाने में बड़े बड़े कोडिंग करने वालो के पसीने छूट जाते है, परन्तु यदि इसके लिए भी यदि कोई plugin मौजूद हो तो ?

जी हाँ, easy table of content यही कार्य करता है। वास्तव में plugin केवल आपके कंटेंट के विषय सूची को दर्शाने के अतिरिक्त भी बहुत से कार्य करता है आइए जानते है –

  1. colourful boxes with colourful words
  2. box के width और length का इच्छानुसार चयन 
  3. शब्दों के width और length पर नियंत्रण
  4. इच्छानुसार बॉक्स कंटेंट के ऊपर/नीचे या मध्य में को स्थापित करना 
  5. हैडिंग के अनुसार सारणी का निर्माण 

अंतिम शब्द : 9 best wordpress plugins in hindi

wordpress में वेबसाइट निर्माण का अर्थ होता है आपको plugins का प्रयोग करना ही पड़ेगा क्योंकि बिना plugins के इस्तेमाल के wordpress पर website बनाने का कोई अर्थ ही नहीं निकलता। 

plugins जहां हमारे कार्य को सरल बनाते है वही ये हमारे लिए खतरनाक भी साबित हो सकते है अगर हम इसका प्रयोग सावधानी पूर्वक न करे तो। 

सही plugins का प्रयोग आपके वेबसाइट की रौनक बढ़ाने के साथ साथ आपके साइट की यूजर एक्सपीरियंस में इजाफा करती है। 

हूँ कि आपको यह लेख पसंद आया होगा। धन्यवाद। 

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments