backlink kya hai

बैकलिंक क्या होता है

backlink kya hai; backlink (जिन्हे  inbound links, oneway links और  incoming links भी कहा जाता है), किसी एक पेज से दूसरे पेज में जाने का एक मार्ग होता है।

उदाहरण के लिए किसी ऐसे वेबसाइट के बारे में सोचिए जहाँ बहुत से लोग daily लेख पढ़ने आते हो, सोचिए अगर आप अपने लेख को यहाँ दिखा पाए तो आप काफी प्रसिद्ध हो सकते है।

परन्तु इतने मशहूर साइट में आपको लेख लिखने का अवसर प्राप्त होना मुश्किल हो सकता है। और यदि लिखने को मिल भी जाए तो आप वहां से अपने वेबसाइट तक उन लोगो को कैसे लाएंगे?

जाहिर है आप उस साइट में लिखे गए लेख पर अपने वेबसाइट का कोई लिंक छोड़ेंगे जिस पर क्लिक करके कोई भी व्यक्ति आसानी से आपके मूल वेबसाइट तक आ सके। यही बैकलिंक कहलाता है।

  1. वास्तव में backilnk कुछ और नहीं आपके किसी पेज का लिंक ही होता है जिससे आप किसी दूसरे पेज से लोगो को अपने मूल साइट के पेज तक लाते है। ऐसे में अपने वेबसाइट पर ट्रैफिक बढ़ाने के लिए यह एक बेहतर विकल्प हो सकता है।
  2. Google जैसे Search Engine किसी पेज के रैंकिंग के लिए backlinks को एक महत्वपूर्ण कारक मानती है इसका अर्थ है कि जिस वेबपेज का रैंक जितना अधिक होगा उसका organic search engine रैंकिंग भी उतना ही बेहतर होगा।
  3. जब कभी आप trusted sites पर अपने backlink बनाते है तो इससे google और अन्य search engines को यह पता चलता है कि आपका लेख कितना महत्वपूर्ण, प्रमाणित और आवश्यक है और यही आपके पेज रैंकिंग के सुधार में बहुत बड़ा खेल खेलता है।
  4. हालांकि गूगल अपने अल्गोरिथम में निरंतर परिवर्तन करता रहता है फिर भी बैकलिंक एक ऐसा चीज है जिससे आप अपने साइट का uniqueness, trusthworthness आसानी से बढ़ा सकते है और यह कारक आपके पेज रैंकिंग में हमेशा ही सकारात्मक परिणाम दर्शाएगा। इसका अर्थ है कि गूगल के algorithm में backlink हमेशा  महत्त्वपूर्ण कारक रहेगा।
  5. स्वयं google ने इस बात को माना है कि backlink किसी site के रैंकिंग के लिए सर्वाधिक महत्वपूर्ण कारक है।

types of backlink in hindi

backlinks के मुख्यतः दो प्रकार होते है; 1. Dofollow Backlinks और 2. nofollow backlinks. आइए अब एक एक कर समझते है कि इनका अर्थ क्या होता है।

1. dofollow backlink क्या होता है

dofollow baklink in hindi

जैसा कि शब्द dofollow का भावार्थ निकलता है do (करना) + follow (अनुसरण), अर्थात ऐसे links जो search engine को follow करने का आदेश देते हो उन्हें dofollow backlinks कहते है।

इसे सरलता से समझने के लिए एक उदाहरण देता हूँ, जैसे यदि मैं किसी trusted site पर अपने किसी पेज का backlink देता हूँ तो उस दशा में search-engine crawlers उस link को पढ़ते है और dofollow का tag लगा होने के कारण यह crawler को link follow करने की अनुमति देते है। इस प्रकार उस link को search engine आसानी से index कर पाता है।

जब search engine robot उस पेज को crawl करता है तो उसे निम्न code प्राप्त होता है जिसे read कर वह इसे dofollow लिंक करार देता है-

<ahref="https://yourwebsite.com" rel="dofollow">link text 

यहाँ हम देख सकते है “dofollow” का विशेष tag लगा हुआ है, इस कारण ऊपर दिए गए link का मतलब dofollow लिंक हो जाता है।

dofollow backlink बनाने से क्या होता है ? यदि searchengine स्वयं आपके post को crawl कर रहा है तो समझ जाइए आपका site search engine के आँखों में है, अर्थात आपके content को वह पसंद कर रहा है और आपके site पर उस backlink से traffic आने की अनुमति भी दे रहा है। तो इसका अर्थ है –

  1. आपके साइट में traffic बढ़ेगा।
  2. आपके साइट का reputation बढ़ेगा।
  3. आपका साइट का वैल्यू बढ़ेगा जिससे आपके साइट पर ऐड लगाने की होड़ भी बढ़ सकती है।
  4. आपके साइट का SEO रैंक बढ़ेगा। जिससे आपका site गूगल के प्रथम पेज में दिखाई पड़ सकता है।
  5. domain रेटिंग में सुधार होगा।

2. nofollow backlink क्या होता है?

nofollow tag होने के कारण search engine crawler उस लिंक को follow करने से रोक देता है, और यदि search engine उस link को follow नहीं कर पाता है तो वह उसे index भी नहीं कर पाता, जिसके कारण आपके उस पेज का ranking  बिगड़ सकता है।

nofollow backlink in hindi

nofollow link का code निम्नलिखित होता है –

<ahref="https://"yourwebsite.com"" rel="nofollow">link text <a

तो यहाँ nofollow का tag विशेष रूप से दिखाई दे रहा है जिसे पढ़ कर crawler उस लिंक में प्रवेश नहीं करते।

nofollow backlink  बनाने से क्या होता है?  देखिये यदि आपने इस उद्देश्य से किसी साइट पर अपना backlink बनाया है कि उसमे traffic आता है तो मेरे साइट पर भी उसके traffic conversion होगा , तो मैं आपको बता दूँ कि traffic तो आपको जरूर मिलेगा, क्योंकि यहाँ से केवल व्यक्ति ही आपके link पर आ सकता है। अर्थात कोई robot या crawler इस लिंक को follow नहीं कर सकता जिसके कारण यहाँ किसी प्रकार से आपके SEO में इजाफा नहीं होगा।

इसका एक अन्य कारण यह भी है कि जिस साइट पर आपने backlink दिया है वह स्वयं low reputation, low trust और low valueable होगा। इसका अर्थ है कि वह साइट अवैध भी हो सकता है , spam भी हो सकता है।

तो इस कारण आपके seo पर कोई सकारात्मक असर नहीं होगा जबकि गलत sites से अत्यधिक backlinks प्राप्त करने से आपके SEO और domain रैंकिंग पर गिरावट भी आ सकता है।

यह भी पढ़े – What is SEO in hindi- SEO kya hai 

यह भी पढ़े – domain name in hindi

परन्तु इसका अर्थ यह नहीं है कि आपको nofollow लिंक नहीं ही बनाना चाहिए। आपको इसे अवश्य बनाना चाहिए बशर्ते dofollow और nofollow में सामंजस्यता बनाकर। क्योंकि nofollow backlinks से आपको traffic अच्छी खासी मिलेगी और dofollow backlink से traffic के साथ साथ SEO में भी इजाफा होगा। तो दोनों का equilibirium अवस्था आपके साइट को जमीं से आसमान तक ला सकता है।

साइट के बैकलिंक की जांच कैसे करे?

किसी दूसरे साइट पर backlink बनाने से पहले आपको यह जांच लेना आवश्यक होता है कि वह साइट dofollow backlink generate करता है या nofollow link.

इसे जांचने के लिए सबसे बेहतरीन विकल्प है अपने google chrome extension पर nofollow extension जोड़ दे। यह आपको प्रत्येक साइट के विषय में जानकारी देगा कि यह किस प्रकार के follow links प्रदान करता है।

तो backlink के विषय से सम्बंधित सामान्य जानकारी यही थी। आशा करता हूँ कि आपको यह लेख backlink kya hai उचित लगा होगा। लेख में किसी भी प्रकार के त्रुटि को दर्शाने या किसी प्रकार के संशोधन हेतु आपके सुझाव नीचे comment के माध्यम से आमंत्रित है।

Subscribe
Notify of
guest
1 Comment
Newest
Oldest
Inline Feedbacks
View all comments