antivirus kya hota hai in hindi

antivirus kya hota hai

antivirus kya hota hai in hindi – antivirus आपके कंप्यूटर को मैलवेयर और साइबर अपराधियों से बचाने में मदद करता है। कोई भी एंटीवायरस आपके कंप्यूटर मोबाइल के निम्न डाटा को स्कैन करता है – वेब पेज, फ़ाइलें, सॉफ़्टवेयर, एप्लिकेशन। स्कैन से अर्थ है फ़िल्टरिंग करना अर्थात किसी भी प्रकार के अनावश्यक खतरनाक चीज से आपके डिवाइस को बचाना। अतः  Antivirus वास्तव में संदिग्ध खतरों की खोज करता है और सभी programms के व्यवहार की निगरानी करता है, तथा इनमे उत्तपन्न संदिग्ध व्यवहार को चिह्नित करता है। Antivirus का कार्य किसी वायरस (malware) को सिर्फ खोजना नहीं होता, बल्कि यह उस Antivirus को ब्लॉक या समाप्त कर सकने की क्षमता रखता है

लगातार उभरते साइबर खतरों की सारणी को देखते हुए प्रत्येक कम्प्यूटर और डिजिटल डिवाइस में आज antivirus बहुत आवश्यक हो चुका है। यदि आपके पास security software स्थापित नहीं है, तो आपको किसी वायरस के आक्रमण या अन्य दुर्भावनापूर्ण सॉफ़्टवेयर द्वारा लक्षित किए जाने का खतरा हो सकता है जो आपके कंप्यूटर और मोबाइल उपकरणों पर भयानक कहर बरपा सकता है।

यदि आपके पास पहले से Antivirus सॉफ़्टवेयर है, तो आप विश्वास कर सकते हैं कि आपका डिवाइस काफी हद तक सुरक्षित हैं।

यदि आपके साइबर सिक्योरिटी डिफेंस में कोई छोटी सी भी समस्या है, तो संभावना बढ़ जाती है कि साइबर अपराधी आपके डिवाइस पर आक्रमण कर दे। आपको यह सुनिश्चित करना आवश्यक है कि आपका antivirus सुरक्षित है और up-to-date है। हालांकि, हैकर्स, स्कैमर और अन्य साइबर जगत के अपराधी नए नए वायरस अटैक ला रहे है, जिससे अवगत होना अतिआवश्यक है। 

आइये जानते है antivirus kya hota hai –

एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर वास्तव में क्या करने के लिए डिज़ाइन किया गया है? कोई भी antivirus  उद्देश्य निम्नलिखित होता है –

  1. कंप्यूटर वायरस और अन्य दुर्भावनापूर्ण सॉफ़्टवेयर को स्कैन करना और मिटाना, जिन्हें मैलवेयर के रूप में भी जाना जाता है।
  2. Antivirus सॉफ्टवेयर अन्य खतरों के साथ-साथ आपके डिवाइस के डेटा और साइबर सुरक्षा करने में आपके समग्र ऑनलाइन और कंप्यूटर सुरक्षा रणनीति का एक महत्वपूर्ण घटक है।

सामान्य रूप से देखा जाए तो एक कंप्यूटर वायरस एक सामान्य सा code किया हुआ program होता है। यह एक डिवाइस  से दूसरे में जाने के लिए डिज़ाइन किया गया है परन्तु यदि व्यापक रूप से देखे तो यह वायरस खुद को कॉपी करता है, और spam codes और प्रोग्राम को बहुत बड़ी मात्रा में spread करता है जो आपके ऑपरेटिंग सिस्टम (OS) को नुकसान पहुंचा सकता हैं और साइबर अपराधियों के घुसपैठ करने का माध्यम बन सकता हैं।

इन वायरस, स्पायवेयर और अन्य दुर्भावनापूर्ण सॉफ़्टवेयर को मैलवेयर के रूप में जाना जाता है, और इन्हे आपके कंप्यूटर या डिवाइस पर विशेष रूप से स्थापित किया जा सकता है। मैलवेयर आपके डिवाइस को क्रैश करने से लेकर आपकी ऑनलाइन गतिविधि की निगरानी या नियंत्रण तक सब कुछ कर सकता है। यह नियंत्रण हैकर्स को स्पैम भेजने और आपकी निजी जानकारी चुराने में सक्षम हो सकता है, जिससे अंततः पहचान की चोरी हो सकती है।

जैसा कि साइबर अपराध सदैव विकसित होता रहता है और अधिक समय के साथ परिष्कृत होता जाता है, चाहे वह आपका अपना PC हो या बड़े नेटवर्क पर अन्य उपकरण, आप खुद को या अपने नेटवर्क को असुरक्षित नहीं छोड़ना चाहते। यदि आपके पास सुरक्षा सॉफ़्टवेयर नहीं है, तो आप साइबर अपराधियों के लिए अपनी सबसे संवेदनशील जानकारी तक पहुंच प्राप्त करने के लिए दरवाजा खोल रहे हैं और इसी कारण आपको अपने कंप्यूटर और मोबाइल उपकरणों पर संभावित रूप से नियंत्रण रख चाहिए ।

different types of antivirus software in hindi

पिछले कुछ वर्षों में कई प्रकार के एंटीवायरस प्रोग्राम विकसित हुए हैं। अपनी सुरक्षा स्थापित करते समय, उपलब्ध सामान्य एंटीवायरस प्रोग्राम को समझना महत्वपूर्ण है। आइए एक एक कर जानते है antivirus kya hota hai और इनके विभ्भिन प्रकार  –

malware transfer antivirus in hindi

मैलवेयर या दुर्भावनापूर्ण सॉफ़्टवेयर, आपके कंप्यूटर या डिवाइस पर आपकी जानकारी के बिना वायरस और स्पायवेयर स्थापित करता है। मैलवेयर आपकी लॉगिन जानकारी चुरा सकता है, स्पैम भेजने के लिए आपके कंप्यूटर का उपयोग कर सकता है, आपके कंप्यूटर सिस्टम को क्रैश कर सकता है, और अनिवार्य रूप से साइबर अपराधियों को आपके उपकरणों और उन पर संग्रहीत जानकारी तक पहुंच प्रदान कर सकता है, और यहां तक ​​कि आपकी ऑनलाइन गतिविधि की निगरानी और नियंत्रण करने की क्षमता भी प्राप्त कर सकता है।

malware transfer antivirus सॉफ़्टवेयर मैलवेयर transfer का पता लगाता है। एक सामान्य antivirus सुरक्षा विशिष्ट दुर्भावनापूर्ण कोड को स्कैन कर सकती है, विशिष्ट वायरस की पहचान कर सकती है और इन कार्यक्रमों को अक्षम कर सकती है।

जबकि मैलवेयर हस्ताक्षर एंटीवायरस सुरक्षा ज्ञात वायरस का पता लगाने और उन्मूलन के लिए महत्वपूर्ण है, इसकी एक सीमा यह है की ये नए वायरस को संबोधित करने में असमर्थ है। antivirus उत्पाद में केवल ये नए वायरस हस्ताक्षर नहीं होते हैं।

system monitoring antivirus in hindi

यह वह जगह है जहाँ एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर की निगरानी करने वाला सिस्टम चलन में आता है। यह एंटीवायरस सुरक्षा व्यवहार और उपयोगकर्ता के लिए संदिग्ध होने के लिए सॉफ़्टवेयर और कंप्यूटर सिस्टम की निगरानी कर सकती है।

उदाहरण के लिए, अलर्ट तब बनाए जाते हैं जब कोई उपयोगकर्ता अपरिचित साइटों से जुड़ता है या बड़ी संख्या में फ़ाइलों तक पहुंचने का प्रयास करता है, या जब डेटा उपयोग में उल्लेखनीय वृद्धि होती है।

machine learning software in hindi

सुरक्षा का एक और रूप मशीन सीखने की तकनीक हो सकती है, जो “सामान्य” कंप्यूटर या नेटवर्क व्यवहार की निगरानी करती है। एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर सीखने वाली मशीन संदिग्ध लगने पर प्रोग्राम या कंप्यूटर द्वारा गतिविधियों को सीमित करने में सक्षम है।

विशेष रूप से, मशीन लर्निंग डिटेक्शन एल्गोरिदम को मैलवेयर का पता लगाने की सुविधा प्रदान करता है जो कि दायरे में व्यापक है। इस प्रकार की एंटीवायरस सिक्योरिटी फायदेमंद है क्योंकि यह सुरक्षा की कई परतों को प्रदान करने के लिए अन्य एंटीवायरस अनुप्रयोगों के साथ मिलकर काम करती है।

मशीन लर्निंग का एक उदाहरण Microsoft का नवीनतम एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर का डिज़ाइन है, जो नए मैलवेयर की खोज के लिए विंडोज 10 पर चलने वाले 400 मिलियन से अधिक कंप्यूटरों से डेटा एकत्र कर सकता है।

एक antivirus किन किन चीजों से हमारे गैजेट्स को बचाता है ?

हैकर्स के लिए मैलवेयर का उपयोग हमारी जानकारी के बिना कंप्यूटर तक पहुंच प्राप्त करना या उसे नुकसान पहुंचाने की क्षमता से है। कई प्रकार के दुर्भावनापूर्ण कोड, या “मैलवेयर” के बारे में जानकारी होना महत्वपूर्ण है, जिनके विरुद्ध antivirus सॉफ़्टवेयर डिज़ाइन किया गया है:

स्पाइवेयर : संवेदनशील जानकारी चोरी
रैंसमवेयर : पैसा निकालना
इंसेक्ट्स : कंप्यूटर के बीच प्रतियां फैलाना
ट्रोजन : एक चीज़ का वादा करना लेकिन दूसरे को डिलीवर करना
Adware : विज्ञापन
स्पैम : अवांछित ईमेल फैलाना

क्या windows और mac के लिए अलग अलग antivirus होते है

विंडोज 8 के साथ शुरू, विंडोज में विंडोज डिफेंडर के रूप में जाना जाने वाला एंटीवायरस सिक्योरिटी है जो डिफ़ॉल्ट रूप से सक्षम है।

लेकिन मुख्य प्रश्न तो यह है कि क्या यह पर्याप्त है?

इसका उत्तर “शायद  नकारात्मक हो सकता है क्योंकि यह पाया गया है कि एक antivirus के रूप में यह इतना अधिक प्रभावी नहीं है। 

उदाहरण के लिए, विंडोज डिफेंडर पारंपरिक वायरस के खिलाफ एक अच्छा बचाव करता है। लेकिन यह नियमित वायरस से परे खतरों का पता नहीं लगा सकता है, और रैनसमवेयर जैसे अधिक परिष्कृत घुसपैठ के खिलाफ आपके उपकरणों की रक्षा नहीं कर सकता है। तो इसकी प्रभावशीलता इस बात पर भी निर्भर करती है कि आप एक व्यक्ति के रूप में कितने सावधान हैं। क्या आप किसी अज्ञात प्रेषक या वेबसाइट से उस लिंक या ईमेल अटैचमेंट पर क्लिक करने जा रहे हैं? सुरक्षित होने के लिए, आपको सुरक्षा की एक अतिरिक्त परत की आवश्यकता है।

हालांकि Macs और अन्य Apple उपकरणों को विंडोज कंप्यूटरों के रूप में अक्सर लक्षित नहीं किया जा सकता है, फिर भी भविष्य में क्या हो सकता है, इसके लिए अतिरिक्त एंटीवायरस सुरक्षा तैयार होना एक अच्छा सुझाव है।

इस समय, यदि आप इस बारे में सावधान नहीं हैं कि आप ऑनलाइन किस लिंक को खोलते है, तो अज्ञात लिंक या अटैचमेंट पर क्लिक न करें और अपनी ऑनलाइन गतिविधि में सावधानी बरतें, इस प्रकार आप सुरक्षित हो सकते हैं। लेकिन मानवीय भूल से बच पाना नामुमकिन है, क्योंकि आज साइबर हमले हर जगह व्याप्त है, ऐसे में आपके द्वारा किसी आधिकारिक या प्रमाणित साइट पर किये  भी आपको खतरा हो सकता है। 

क्या free antivirus software एक अच्छा विकल्प है ?

एक और सामान्य सवाल यह है कि क्या मुफ्त antivirus सॉफ़्टवेयर हमारी सही तरीके से सुरक्षा करता है। लेकिन क्या वास्तव में कुछ भी मुफ्त है? वास्तव में कोई फ्री antivirus विज्ञापन और अनावश्यक spammy लिंक्स के माध्यम से अपनी कमाई करते है। इसी कारन आपने देखा होगा की फ्री में मिलने वाले antivirus में विज्ञापनों और अन्य असामाजिक तत्वों का ढेर लगा होता है। 

मुफ्त  antivirus भी मैलवेयर जैसे खतरनाक virus को अपने भीतर छिपा सकते हैं। यदि आप इस मार्ग पर जाते हैं, तो केवल उन साइटों के सॉफ़्टवेयर डाउनलोड करें, जिन पर आप पूरी तरह भरोसा करते हैं। आपको यह भी सुनिश्चित करना होगा कि दुर्भावनापूर्ण कोड का पता लगाने के लिए आपकी सुरक्षा सेटिंग पर्याप्त रूप से सेट की गई है।

एक और बात ध्यान में रखते हुए कि क्या मुफ्त एंटीवायरस सुरक्षा पर भरोसा किया जा सकता है? पहचान की चोरी सुरक्षा, मोबाइल सुरक्षा और डेटा सुरक्षा के लिए यह एक घातक हमला हो सकता है। इन महत्वपूर्ण सुरक्षा सुविधाओं का अभाव सामान्यतः सभी  antivirus में देखा जा सकता है। 

अंतिम शब्द : antivirus kya hota hai in hindi

आशा करते है कि आपको यह लेख  antivirus kya hota hai पसंद आया होगा। आप अपनी प्रतिक्रिया नीचे comment बॉक्स में देने के लिए स्वतंत्र है, अतः हमें आपके सुझाव का इंतज़ार रहेगा।

धन्यवाद।

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments